what is seo kya hai hindi me

, , Leave a comment

SEO kya क्या हैं। 

[SEO KA KYA मतलब होता है। What is Seo पूरी जानकारी हिंदी में। ]

SEO KA KYA मतलब होता है। What is Seo पूरी जानकारी हिंदी में।

 

आज हम आपको बताएंगे कि SEO KYA HOTA HAI और SEO KA KYA मतलब होता है। What is SEO पूरी जानकारी हिंदी में। 

दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि SEO क्या होता हैं।


(SEO क्या होता है।)

SEO क्या है  उस से पहले मै आपको बताना चाहुगा कि कभी आपने सोचा है कि जब हम गूगल में कुछ सर्च करते है तो कुछ लिंक हमारे सामने आ जाते है। वह लिंक जो आपने सर्च किये है वह कहा से आये।
 
और आपने ये भी देखा है कि केवल कुछ लिंक ही दिखाई देते है और बाकि कई लिंक दिखाई नहीं देते क्यों ? क्योकि जो आर्टिकल या लिंक हमें दिखाई दे रहे है उनका एक दम अच्छे से SEO किया गया हैं। और इसी वजह से वो आर्टिकल हमे Google के पहले Page दिखाई देते हैं।   
 
दोस्तों SEO (Search Engine Optimization) का एक शार्ट रूप है। SEO का मतलब Search Engine Optimization होता है।  साधारण भाषा में हम कह सकते है की अपने Artical को रैंक करवाने के लिए जो हम प्रोफेसनल तरीके से जो आर्टिकल लिखते हैं जो की Search Engine में टॉप पेज में आये। उसको SEO पोस्ट कहते है। 
SEO क्या है इसका एक Example मान लो की आपने एक पोस्ट Artical लिखी है या कोई वीडियो यू-ट्यूब या किसी दूसरे प्लेटफार्म पर डाली है। तो  SEO करके ही उसे रैंक करवा सकते है। बिना SEO के  पोस्ट रैंक नहीं  हो पायेगी।
 
कहने का मतलब है की अगर हम अपने Artical को अगर SEO नहीं करेंगे तो Google, Yahoo, आदि जैसे सर्वर में हमारी पोस्ट टॉप में रैंक नहीं कर पायेगी। और बहुत ही निचे रह जाएगी।
 
जिससे हमे विजिटर नहीं मिल पाएंगे। अगर हम अपने Artical को SEO कर लगे तो हमारा Artical गूगल, जैसे सर्वर में टॉप पर रैंक करेगी। जिससे बहुत से लोग आपके आर्टिकल तक पहुंच पाएंगे। जिससे आपकी आमदनी भी बढ़ जाएगी। 


SEO का क्या मतलब होता है। 

जैसा की मेने आपको बताया की SEO kya Hai? तो  SEO का  मतलब निम्न हो सकता है। अतः आप कह सकते है की अपने आर्टिकल को इस तरह लिखना जिससे वह गूगल जैसे सर्वर में टॉप पर रैंक करे। इस तरह के आर्टिकल को SEO या SEO Artical कहते है।

SEO क्या है? और SEO का परिणाम क्या हो सकता है ?

१. SEO Artical नहीं लिखने से आपकी वेबसाइट रैंक नहीं कर पायेगी।
२. SEO Post नहीं लिखने से आपकी वेबसाइट पर visitors नहीं आ पाएंगे।
३. SEO Artical  के बिना आपको जल्दी से किसी Google Adsense जैसी कंपनी का Apruval नहीं मिल पायेगा। 
४.  SEO Artical  के बिना कम्पटीटर से नहीं लड़ पाएंगे। 
५. बिना SEO Post के फॉलोवर्स गेन नहीं कर पाएंगे।  

“SEO” क्या हैं? कितने प्रकार के होते है 

 

एस ई ओ  दो प्रकार के होते है। 

 

१. On Page SEO (Search Engine Optimization)२. Off Page SEO (Search Engine Optimization)

 

१. On Page SEO (Search Engine Optimization) क्या है।  

दोस्तों अब बात है की  On Page एस. ई. ओ (Search Engine Optimization) क्या है। 
जब हम कोई पोस्ट डाइरेक्ट अपने ब्लॉग या वेबसाइट में  लिखते है- जैसे की टाइटल, कंटेंट, डिस्क्रिप्शन आदि। वह . On Page SEO (Search Engine Optimization) होता है। On Page SEO (Search Engine Optimization में हमें SEO Friendly, Title, Content, Images, Discription, Meta Discription, alt text आदि लिखते है। आइये बात करे की On Page SEO (Search Engine Optimization कैसे लिखते है। 
 
 

(A) On Page SEO (Search Engine Optimization कैसे लिखते है।

 

1.  On Page SEO (Search Engine Optization) के लिए SEO Title kaise लिखे?

 
 

 On Page एस. ई. ओ (Search Engine Optimization के लिए सबसे पहले एक SEO Title लेना होता है। दोस्तों पोस्ट  के लिए आपको एक ऐसा कीवर्ड choose करना है जिसका सर्च वॉल्यूम काफी अधिक हो और कॉम्पिटशन low हो।
 
और उसकी cpc भी अधिक होनी चाहिए। अपनी पोस्ट के लिए आप कोई भी keyword planner को यूज़ कर सकते हो। इसके लिए आप google keyword tool की भी मदत ले सकते हो।
 
इस तरह के कीवर्ड को आप अपना title बनायेगे। औरइस तरह के कीवर्ड को ही। SEO Title कहते है। इस तरह के title को आप अपनी पोस्ट के सबसे ऊपर लिखेंगे। और ये के आपके पर्मालिंक के भी आजायेगा। 

(2) On Page SEO (Search Engine Optization) के लिए SEO Discripition कैसे लिखें?

दोस्तों अब बात आती है की एस. ई. ओ Discripition की तो दोस्तों इसमें आपको इस तरह के keyword लिखने है जो की गूगल जैसे साइट पर ज्यादा search होते है आपके Discription के keyword भी आपके पोस्ट के टाइटल के जैसे होने चाहिए।
 
जैसे की आपका टाईटल SEO क्या होता है।
तो आप अपने डिस्क्रिप्शन में कुछ इस तरह के वर्ड लिखेंगे जैसे SEO कैसे करे?
SEO Artical कैसे लिखे? SEO BLOG Kaise Banaye? what is SEO आदि तरह के होने चाहिए
ताकि जब कोई भी इनमे से कुछ सर्च करे तो आपकी पोस्ट GOOGLE में टॉप में आये।
दोस्तों इस तरह के Keywords को SEO Discripition कहते है।

(3) SEO (Search Engine Optization) के लिए SEO Image Kya Hoti Hai?

SEO इमेज आपकी पोस्ट के जैसे ही होनी चाहिए
मानलो की अपने SEO क्या hai के ऊपर पोस्ट लिखनी है
तो आपको कुछ इस तरह की इमेज लगानी है
जिससे ये पता चले की ये पोस्ट किस बारे में है।
और जब आप इमेज को अपनी पोस्ट में डालेंगे तो उस इमेज का नाम आपको अपने टाइटल के अनुसार रखना है।
 
और alt में भी title का नाम डालना है। इस तरह आपकी इमेज SEO Friendly बन जाएगी। इस तरह की इमेज को SEO Friendly Image कहते है। 
 
दोस्तों याद रखे की आपकी इमेज कॉपीराइट नहीं होनी चाहिए।
आपको अपनी पोस्ट के लिए फ्री कॉपीराइट इमेज इस्तेमाल करनी है।
या फिर अपनी पोस्ट के लिए इमेज फोटो शॉप से भी बना सकते है। 
गूगल पर आपको कई ऐसे सॉफ्टवेयर मिल जायेगे जिनकी मदत से आप आसानी के साथ इमेज बना सकते हो।

(4) SEO (Search Engine Optization) के लिए SEO कंटेंट क्या है।  

दोस्तों अब बात आती है की SEO कंटेंट की तो ये पोस्ट का सबसे जरुरी पार्ट है
इसमें आपको कोई भी कंटेंट कॉपी पेस्ट नहीं करना है
आपको अपनी पोस्ट के लिए खुद ही कंटेंट लिखना है।
आप को अपनी पोस्ट में अधिक से अधिक वर्ड्स लिखने है।
आप जितनी बड़ी पोस्ट लिखेंगे उतनी ही आपकी पोस्ट गूगल सर्च में शो करेगी।
 
साथ ही साथ आपको अपने SEO Title और SEO discription से रिलेटिव वर्ड्स को अधिक अधिक यूज़ करना है।
याद रखे की जो वर्ड्स आप लिख रहे है वह आपकी पोस्ट के अनुसार होने चाहिए।
 
ऐसा नहीं के बस केवल कीवर्ड ही कीवर्ड लिख दे।
ऐसा करने से आपकी पोस्ट पर नेगेटिव असर पड़ेगा।
आपको अपनी SEO Artical के अनुसार ही SEO keywords इस्तेमाल करने है। 
आपको हर परिग्राफ के बाद Sub-Heading का यूज़ करना है
और Sub-Heading में भी आपको सही कीवर्ड का इस्तेमाल करना है।   
 

(5) SEO (Search Engine Optization) के लिए parmalink कैसा होना चाहिए?

Seo पर्मालिंक भी आपको पर्मालिंक कस्टम लिखना है। वैसे तो पर्मालिंक अपने आप ही बन जाता है। लेकिन फिर भी आपको कस्टम परमालिक बनाना है।
 
जैसे की आपने टाइटल दिया की एस ई ओ क्या है।  तो आपको पर्मालिंक में एस ई ओ क्या है। , कुछ इस तरह का बनाना है। तो चलो दोस्तों आगे बढ़ते है। 

२. Off Page SEO (Search Engine Optimization) क्या होता है। 

ऑफ पेज SEO वो होती हो हम अपनी पोस्ट में नहीं लिखते। 
बल्कि दुसरो की पोस्टो या कमेंट में लिखते है।
अब हम बात करेंगे की Off Page SEO कैसे करते है।
और इसमें क्या होता है। 
 
ऑफ पेज SEO के लिए अपने को बैक लिंक बनाने होते है।
बैक लिंक से हमे अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर ट्रैफिक मिलता है।
ये एक ऐसा जरिया है जिस से हम अपनी पोस्ट पर विजिटर को ला सकते है।  
 
 दोस्तों अभी तक हमने सीखा की SEO क्या है। SEO पोस्ट कैसे लिखे।
अब SEO POST के लिए हम बैकलिंक के बारे में जानेगे। 

SEO Artical के लिए Backlinks कैसे बनाते हैं? 

दोस्तों BackLinks भी दो प्रकार के होते है।
 (1) Do Follow Backlink
 
 (2) No, Follow Backlink

(1) SEO Article के लिए Do Follow Backlink

जब कोई भी ब्लॉगर या वेबसाइट अपनी पोस्ट या वेबसाइट का लिंक अपने ब्लॉग या वेबसाइट में देता है।
और उसके बाद जब कोई उस पोस्ट को पढता है। और जब  वह उस लिंक को क्लिक करता है।
जो की आपका लिंक है और वह आपकी वेबसाइट या ब्लॉग पर पहुंच जाता है।
 

उस तरह के लिंक को हम Do Follow link कहते है।

इससे आपको बिना कुछ किये व्यूज मिलते है और आपकी कमाई बढ़ती है।

और उसी कारण आपकी पोस्ट अधिक सर्च होती है।

जिससे  SEO (Search Engine Optimization) हो जाती है।

इस पूरी प्रक्रिया को seo  SEO (Search Engine Optimization)  कहते है।

 (2) SEO Artical के लिए No Follow Backlink

दोस्तों  No Follow Backlink बनाने के लिए।
हमे दुसरो की पोस्टो को पढ़ कर उनके कमेंट बॉक्स में कमेंट करना होता और वहा अपनी पोस्ट, ब्लॉग, या वेबसाइट का लिंक देना होता है।
इस तरह के लिंक को हम No Follow Backlink कहते है।
 
इस प्रक्रिया में भी अगर उस पोस्ट को लिखने वाला आपके कमेंट को publish करता है।
तो  वहा से भी आपको अपनी पोस्ट के लिए  backlink मिलता है।
में आशा करता हु की अब आप बैकलिंक  के बारे भी जान चुके होंगे।
तो अब हम अपनी पोस्ट SEO क्या है में आगे की और बढ़ते है।   
दोस्तों अब हम बात करेंगे की अपनी वेबसाइट को SEO कैसे करे?
Website ko SEO Kaise करे?

Website ko SEO Kaise करे?

दोस्तों SEO Post के साथ साथ आपके ब्लॉग या वेबसाइट भी SEO Friendly होनी चाहिए। 
दोस्तों अगर आप ब्लॉग बना रहे तो।
 
एक SEO Friendly Blog के लिए आपको कुछ महत्यपुर्ण कार्य करने होंगे। जैसे की आपको चाहिए की आपका blog का टाइटल, meta  Discription, Discription, टेम्पलेट आधी भी SEO Friendly और रेस्पॉन्सिव होना चाहिए।
 
चलो इसके बारे में भी विस्तार से चर्चा कर लेते है जिससे की आपको What is SEO Kya Hai Hindi me क्या है की पूरी जानकारी मिल सके और आप अच्छे पैसे कमा पाए। 

(1) SEO Friendly Domain Name

आपको एक असा डोमेन name ढूढ़ना है, जिस के बारे में आप अधिक से अधिक पोस्ट लिख सके और वह डोमेन ऐसा होना चाहिए जिसका सर्च अधिक हो ,
कॉम्पिटिटर बहुत काम हो, और cpc काफी अधिक हो। और जिसके बारे में आप अधिक जानते हो। 

(2) SEO Friendly Templates  

SEO Templates  दोस्तों आपके blog या website का Template एक SEO Friendly और Responsive Template होना चाहिए।
Responsive Template वो होता जो हर डिवाइस में जल्दी से ओपन हो जाये।
क्यों की अगर आपका Template Responsive नहीं होगा तो वह जल्दी से ओपन नहीं होगा। 
 
और आपके विज़िटर बोर हो जायेगे और उस पोस्ट को बिना पढ़े ही छोड़ देंगे।
चाहे आपने  कितनी ही अच्छी seo पोस्ट लिखी हो।
इस लिए आप अपने blog या website के लिए एक SEO और responsive Template चुने। 

(3) SEO Friendly Title

 एक ऐसा टाइटल लिखना जो की अधिक सर्च में आता हो।

और आप जिस पर अधिक से अधिक पोस्ट लिखना जानते हो।

हालाँकि जैसे की मेने पहले आप को बताया था की मान लो की आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट में SEO क्या Hai जैसे टाइटल पर पोस्ट लिखनी है। 

 
तो आपके blog का टाइटल SEO Full Information कुछ ऐसा ही होना चाहिए।
और आप अपने ब्लॉग में seo से रिलेटिव ही पोस्ट डालेंगे।
इससे देखना की आपके ब्लॉग पर हद से ज्यादा traffic आएगा और आपकी इनकम भी अधिक होगी। 

(4) SEO Friendly Discription

इसके बाद आपको SEO discription लिखना है।
हालाँकि इसके लिए आपको ठीक उसी तरह Keyword use करने जो की आपके ब्लॉग के टाइटल में भी हो पोस्ट में भी हो।  

(5) SEO Friendly Meta Discription

हालाँकि Meta Discription अपने blog या website या फिर अपनी post को रैंक करने के लिए बहुत ही जरुरी है।
इस लिए आपको अच्छी तरह से कीवर्ड सर्च करके अपने ब्लॉग के लिए मेटा डिस्क्रिप्शन लिखना है।
याद रखे के इसमें केवल आप 150 वर्ड्स ही लिख सकते है। 
 
हालाँकि
आप कुछ ऐसे वर्ड्स चुने की जो
आपके ब्लॉग, टाइटल, पोस्ट, आदि से पूरी तरह से मिलते जुलते होने ही चाहिए।
दोस्तों अगर आप जैसा मेने आपको बताया है!
अपने बिलकुल वैसा ही किया तो आपके पोस्ट या ब्लॉग को सर्च में आने से कोई नहीं रोक सकता है।

"what

 
 
 
 
 
 

Related Posts

 

Leave a Reply